होमBollywood Updateकमल हासन की फिल्म "विक्रम" ने बनाया नया रिकॉर्ड, कंगना की "धाकड़"...

कमल हासन की फिल्म “विक्रम” ने बनाया नया रिकॉर्ड, कंगना की “धाकड़” समेत पृथ्वीराज को छोड़ा पीछे

कमल हासन की फिल्म "विक्रम" ने बनाया 2022 में नया रिकॉर्ड, 250 करोड़ की कमाई बॉक्स ऑफिस पर करके बनी साल की सबसे बड़ी तमिल फिल्म।

- Advertisement -

67 साल के कमल हासन ने वो कर दिखाया है, जिसे देख इंडस्ट्री के बड़े बड़े सो कॉल्ड स्टार्स के पसीने छूट गए हैं। 67 साल की उम्र में कमल हासन ने 250 करोड़ का कारोबार किया है। कमल की फिल्म “विक्रम” ने बॉक्स ऑफिस पर बाजा-फोड़ छप्पर तोड़ कमाई की है। 

कमल हासन ने जो रिकॉर्ड बनाया है उसके सामने कंगना रनौत की फिल्म “धाकड़” और खिलाड़ी अक्षय कुमार की फिल्में इस बात का सबूत है कि सिर्फ घमंड और स्टारडम के नाम पर फिल्में नहीं चलती हैं। कमल हासन विनम्र हैं, प्यारे हैं, सबको इज्जत देते हैं। अपनी फिल्मों में मेहनत करते हैं। मीडिया में बिना बात की लाइम लाइट से दूर रहते हैं और सिर्फ अपनी फिल्मों पर मेहनत करते नजर आते है। तो देखिए उनकी फिल्म “विक्रम” को जनता ने कैसा प्यार दिया है।

- Advertisement -

यह भी देखें: राजपाल यादव की फिल्म में है सच्चाई, यहाँ देखें कैसी है फिल्म

250 करोड़ का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन करके बनी 2022 की सबसे बड़ी फिल्म

फिल्म “सम्राट पृथ्वीराज” के साथ रिलीज हुई कमल हासन की फिल्म “विक्रम” ने ग्लोबल बॉक्स ऑफिस पर 250 करोड़ का कारोबार कर लिया है। वहीं अक्षय कुमार की फिल्म “सम्राट पृथ्वीराज” 65 करोड़ कमाने में भी हांफ रही है। जरा सोचिए, कमल हासन ने कितने कमाल का स्टारडम सेट किया है।

कमल हासन की फिल्म को साउथ से लेकर नॉर्थ तक में, और यहां तक की विदेशों में भी खूब प्यार मिला है। यानी अपने काम से कमल साहब ने ये साफ बता दिया है कि सिर्फ शोशेबाजी से काम नहीं चलता। दर्शकों का दिल जीतने के लिए अपने किरदार पर और अपनी फिल्मों पर मेहनत करनी होती है। 

बॉलीवुड स्टार को साउथ सिनेमा से क्या सीखना चाहिए?

- Advertisement -

वास्तव में, हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के बड़े बड़े सो कॉल्ड स्टार्स को कमल हासन से बहुत कुछ सीखने की ज़रूरत है। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के स्टार घमंड में इतराते है, हर चीज पर उल्टे सीधे बयान देते हैं, लेकिन बस अपनी फिल्मों पर मेहनत नहीं करते। उन्हें अपने स्टारडम पर इतना घमंड होता है कि वो दर्शकों को हल्के में ले लेते हैं। आइये आपको हम कमल हासन के बारे में दो कमाल की ओर बाते बताते है, जिन्हें जानकर आपके दिल में उनके लिए इज्जत और बढ़ेगी।

पहली बात, इतने बड़े स्टार होने के बावजूद कमल हासन साहब सेट पर वही खाना खाते हैं जो बाकी क्रू मेंबर्स के लिए आता है। वो हिंदी फिल्मों के स्टार की तरह फैंसी खाना खाने का और खुद को सुपर वीआईपी दिखाने का ड्रामा बिल्कुल नहीं करते। 

दूसरी बात, इतने सीनियर एक्टर होने के बावजूद कमल हासन साहब आज भी कुछ सीखने में शर्माते बिलकुल नहीं है। आप ये जानकर चौंक जाएंगे कि सन 1988 में प्रोस्थेटिक मेकअप (कृत्रिम श्रृंगार) सीखने के लिए कमल हासन हॉलीवुड गए और वहां स्टैलोन के मेकअप आर्टिस्ट असिस्टेंट बनें, ताकि काम सीख सकें। 

- Advertisement -

यह भी देखें: फिल्म ‘सम्राट पृथ्वीराज’ की विफलता के बाद, अक्षय कुमार की आगामी फिल्म ‘गोरखा’ हुई बंद!

सिर्फ मेकअप सीखने के लिए बने थे हॉलीवुड में मेकअप असिस्टेंट

उस समय तक कमल हासन तमिल सिनेमा के जाने माने स्टार थे, और तमिल में फिल्मफेयर तक जीत चुके थे। आप खुद सोचिए कि फिल्मफेयर जीता हुआ कौन सा बॉलीवुड स्टार ये हिम्मत कर सकता है कि वो हॉलीवुड जाकर किसी को मेकअप में असिस्ट करे। यहां के स्टार तो बस घमंड कर सकते हैं और भीड़ के सामने अपना ऐटिटूड दिखा सकते हैं। 

यही वजह है कि कमल हासन हकीकत में महान है, और अब जनता इस महानता का इनाम भी उन्हें बॉक्स ऑफिस पर दे रही है। और साथ ही जनता हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के उन स्टार्स को भी चेतावनी दे रही है जो लगातार गलतियां कर रहे है और सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं।

यह भी देखें:

क्या हो पाएगी फिल्म “ब्रह्मास्त्र” ₹1000 करोड़ के बॉक्स ऑफिस में शामिल?

₹500 से की थी शुरुआत, आज है अरबों की मालकिन, जाने पूरी कहानी

ये है भारत के सबसे ज्यादा फीस चार्ज करने वाले डायरेक्टर्स, फीस जानकर हो जायेंगे हैरान

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -