होमBiographyAnuradha Paudwal Biography in Hindi: इस तरह से खत्म हुआ "अनुराधा पौडवाल"...

Anuradha Paudwal Biography in Hindi: इस तरह से खत्म हुआ “अनुराधा पौडवाल” का करियर
A

Anuradha Paudwal Biography in Hindi: इस तरह से हुआ "अनुराधा पौडवाल" के करियर का अंत। जाने अनुराधा पौडवाल के करियर की पूरी कहानी, शुरुआत से लेकर अंत तक।

- Advertisement -

Anuradha Paudwal Biography in Hindi: दोस्तों हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के इतिहास में कई ऐसे फनकार आए जिन्होंने अपनी आवाज का जादू दर्शकों पर चलाया। आज ऐसी एक लोकप्रिय सिंगर के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं जिनकी आवाज सालों पहले कहीं खो गई है। इस सिंगर का नाम है अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal)। 80 के दशक में अनुराधा पौडवाल एक बेहतरीन गायिका बनकर उभरी थी। उस दौर में लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar), आशा भोसले (Asha Bhosle), और अलका याग्निक (Alka Yagnik) जैसी गायिकाएं झंडे गाड़ रही थी, लेकिन अनुराधा पौडवाल जब आई, तो इन सभी को उन्होंने कड़ी टक्कर दी।

यह भी देखें: गंगूबाई काठियावाड़ी वास्तविक जीवन की कहानी हिंदी में

- Advertisement -

अनुराधा पौडवाल को गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) और टी सीरीज (T-Series) की खोज भी कहा जाता है। गुलशन कुमार उन्हें दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते थे। अनुराधा पौडवाल ने अपनी सिंगिंग करियर की शुरुआत 1973 में आई अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और जया भादुड़ी (Jaya Bhaduri) स्टारर फिल्म “अभिमान” (Abhimaan Movie 1973) से की थी, लेकिन उन्हें पहला बड़ा ब्रेक 1976 में सुभाष घई (Subhash Ghai) ने अपनी फिल्म “कालीचरण” (Kalicharan Movie 1976) में दिया। इसके बाद अनुराधा पौडवाल ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। एक के बाद एक उन्होंने लक्ष्मीकांत प्यारेलाल, कल्याणजी, आनंदजी, और जयदेव जैसे संगीतकारों के साथ काम किया।

अनुराधा पौडवाल की जीवनी हिंदी में | Anuradha Paudwal Biography in Hindi

इस दौरान लता मंगेशकर और आशा भोसले के साथ उनके विवाद की भी खबरें आईं, जिसकी वजह से वह खुद भी दूसरे संगीतकारों के रडार पर आ गई। उन्हें काम मिलना कम हो गया। उस दौर में गुलशन कुमार की म्यूजिक कंपनी टी सीरीज सबसे बड़ी कंपनी थी। हर कोई उनके साथ काम करना चाहता था। अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal Biography in Hindi) ने अपने करियर को नया आयाम देने के लिए गुलशन कुमार के साथ हाथ मिलाया और उनके गाने गाने लगी।

- Advertisement -

यह भी देखें: जूनियर एनटीआर जीवनी और जीवन शैली हिंदी में

सफलता ने अनुराधा पौडवाल के ऐसे कदम चूम कि “आशिकी” (Aashiqui Movie), “दिल है कि मानता नहीं” (Dil Hai Ke Manta Nahin), और “बेटा” (Beta) जैसी फिल्मों के लिए उन्हें लगातार तीन फिल्मफेयर अवार्ड दिए गए। इस दौरान अनुराधा पौडवाल गुलशन कुमार की भी पसंदीदा गायिका बन गई। हर जगह और हर मामले में वह अनुराधा पौडवाल को सपोर्ट करने लगे। इससे इंडस्ट्री में ऐसी ख़बरों ने भी आग पकड़ी की गुलशन कुमार और अनुराधा पौडवाल के बीच कुछ चक्कर चल रहा है। हालांकि इस पर किसी ने भी खुलकर कुछ नहीं कहा। अनुराधा उसी तरह गाने गाती रहीं और आगे बढती रही।

लता मंगेशकर को टक्कर दे रही थी अनुराधा पौडवाल | Anuradha Paudwal Biography

जिस रफ्तार से वह आगे बढ़ रही थी, उससे लग रहा था कि वह लता मंगेशकर का दौर खत्म हो गया है। खुद कंपोजर “ओपी नैयर” (OP Nayyar) ने यह कह दिया था कि लता का दौर अब खत्म हो चुका है। अनुराधा ने उन्हें रिप्लेस कर दिया है, लेकिन इससे भी बड़ी बात गुलशन कुमार ने कही थी। अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal Biography in Hindi) को लेकर गुलशन कुमार ने कहा था कि वह उन्हें दूसरी लता मंगेशकर बनाएंगे। इसके बाद उन्होंने उसी दिशा में काम करना शुरू कर दिया।

- Advertisement -

यह भी देखें: सिंधुताई सपकाल की जीवनी हिंदी में

फिर अचानक एक दिन अनुराधा पौडवाल ने अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा फैसला लिया। उन्होंने सभी को यह कहकर चौंका दिया कि अब वो सिर्फ टी सीरीज (T-Series) के लिए ही गाने गाएंगी। अनुराधा के इस फैसले से लोगों को लगने लगा कि गुलशन कुमार और अनुराधा पौडवाल के बीच अफेयर की खबरें झूठी नहीं हैं। बेशक गुलशन कुमार की वजह से अनुराधा ने टी सीरीज के लिए गाने का फैसला लिया हो, लेकिन इससे उन्होंने अपने पैरों पर ही कुल्हाड़ी मार ली। क्योंकि इसके बाद टी सीरीज से बाहर के सभी गाने अलका याग्निक और बाकी गायिकाओं को मिल गए।

ऐसे हुआ अनुराधा पौडवाल के करियर का अंत | Anuradha Paudwal Biography

जबकि अनुराधा ने भजन और आरती गानी शुरू कर दी। इस वजह से अनुराधा पौडवाल का करियर डूब गया (Anuradha Paudwal Biography in Hindi) और कई सालों तक उन्होंने किसी फिल्म या म्यूजिक कंपनी के लिए नहीं गाया। गुलशन कुमार की मौत के बाद तो उन्होंने फिल्मी गाने गाना छोड़ दिए। जी हां, दोस्तों ये कहानी थी सिंगर अनुराधा पौडवाल की। आपको अनुराधा पौडवाल का कौन सा गाना सबसे अच्छा लगा, या कौनसी खास बात आपको अनुराधा पौडवाल की सबसे अच्छी लगी? हमें कमेंट करके जरूर बताए।

अनुराधा पौडवाल कौन है?

अनुराधा पौडवाल एक गायिका है जिन्होंने लता मंगेशकर को भी कड़ी टक्कर दी है। अनुराधा पौडवाल का जन्म 27 अक्टूबर 1954 को कर्णाटक में हुआ था।

अनुराधा पौडवाल के पति का क्या नाम है?

अनुराधा पौडवाल के पति का क्या नाम अरुण पौडवाल है, जो एक संगीतकार है।

अनुराधा पौडवाल की उम्र कितनी है?

अनुराधा पौडवाल की उम्र 67 साल की है, इनका जन्म 27 अक्टूबर 1954 को हुआ था।

अनुराधा पौडवाल के कितने बच्चे है?

अनुराधा पौडवाल के दो बच्चे है, एक लड़का और एक लड़की। अनुराधा पौडवाल की बेटी का नाम कविता पौडवाल है और बेटे का नाम आदित्य पौडवाल है।

यह भी देखें:

लता मंगेशकर की पूरी जीवन कहानी हिंदी में

क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी की कारों का संग्रह

बॉलीवुड के इन अभिनेताओं की माताओं के बारे में आप नहीं जानते

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -