भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस गौतम अडानी (Gautam Adani) की अगुवाई वाले अडानी ग्रुप (Adani Group) के निवेशकों के लिए अच्छी खबर है। 

ग्रुप की कंपनी Adani Ports and Special Economic Zone के बोर्ड ने निवेशकों को वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 250% डिविडेंड देने की सिफारिश की है।

कंपनी बोर्ड ने मंगलवार को चौथी तिमाही के नतीजों की घोषणा करते हुए कहा कि उसके बोर्ड ने निवेशकों को दो रुपये के पूर्ण चुकता शेयर पर पांच रुपये का डिविडेंड देने की सिफारिश की है।

मार्च, 2022 को समाप्त तिमाह में कंपनी का नेट प्रॉफिट 21 फीसदी की गिरावट के साथ 1,024 करोड़ रुपये रहा।

जबकि रेवेन्यू छह फीसदी की तेजी के साथ 3,845 करोड़ रुपये रहा। इस दौरान कंपनी का Ebitda 19% की गिरावट के साथ 1,858.8 करोड़ रुपये रहा।

अडानी पोर्ट्स एंड एसईजेड देश की सबसे बड़ी इंटिग्रेटेड पोर्ट्स और लॉजिस्टिक्स कंपनी है।

इस साल कंपनी के शेयरों में एक फीसदी गिरावट आई है जबकि अडानी ग्रुप के शेयरों में करीब तीन फीसदी तेजी आई है।

अडानी ग्रुप की सात कंपनियां लिस्टेड हैं। इनमें अडानी ग्रीन एनर्जी (Adani Green Energy) का मार्केट 341,786.69 करोड़ रुपये का है।

ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी Adani Enterprises का मार्केट कैप 247,563.01 करोड़ रुपये और Adani Total Gas का मार्केट कैप 243,904.88 करोड़ रुपये है।

और जानने के लिए क्लिक करें।

CLICK HERE