अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के शेयरों में गिरावट का सिलसिला आज भी जारी रहा और इसने लोअर सर्किट छू लिया।

पिछले चार सत्रों में इसमें 22 फीसदी से अधिक गिरावट आई है। यह शेयर 28 अप्रैल को 878.35 रुपये के उच्चतम स्तर पर पहुंचा था

लेकिन आज यह 680.20 रुपये पर आ चुका है। गुरुवार को इसने पांच फीसदी गिरावट के साथ लोअर सर्किट छू लिया।

अडानी विल्मर ने दो मई को मार्च तिमाही के नतीजों की घोषणा की थी। इस दौरान कंपनी के नेट प्रॉफिट में सालाना आधार पर 25.6 फीसदी गिरावट आई।

दो मई को कंपनी के शेयर में चार फीसदी गिरावट आई थी। कल यानी चार मई को कंपनी के शेयर में पांच फीसदी कि गिरावट आई।

हालांकि यह अब भी यह अपनी लिस्टिंग प्राइस 221 रुपये से 207.78 पर्सेंट अधिक है।

कंपनी का मार्केट कैप भी गिरकर 88,404 करोड़ रुपये रह गया है।

यह शेयर 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन के मूविंग एवरेज से ऊपर चल रहा है लेकिन पांच दिन के मूविंग एवरेज से नीचे है।

अडानी विल्मर के शेयरों में गिरावट से गिरावट से अडानी ग्रुप (Adani Group) के चेयरमैन गौतम अडानी (Gautam Adani) के शेयरों में भी गिरावट आई है।

अडानी विल्मर में अडानी ग्रुप और सिंगापुर के विल्मर ग्रुप की हिस्सेदारी है। कंपनी खाद्य तेल, आटा, चावल, दाल और चीनी का बिजनस करती है।

और जानकारी के लिए क्लिक करें।

CLICK HERE